[bageshwar] - हजारों की आबादी का सवाल, कब खुलेंगी सड़कें

  |   Bageshwarnews

तबागेश्वर। आपदा की मार से तीन और मकान क्षतिग्रस्त हो गए हैं। मूसलाधार बारिश से इन मकानों को भारी नुकसान पहुंचा है। मकानों के मलबे में राशन, बर्तन, कपड़े आदि घरेलू सामान दब गया है। खतरे के बावजूद प्रभावित क्षतिग्रस्त मकानों में रहने को मजबूर हैं।

बुधवार को कपकोट-पिंडारी, भयू-गडेरा, कपकोट-पोलिंग, बैड़ापाखड़-ओखलधार, पोथिंग-भगवती मंदिर, विजयपुर-ढप्टी-बासतोली, धरमघर-माजखेत, शामा-नौकुड़ी, लीली-गैनार, कांडा-रिखाड़ी समेत 10 मोटर मार्ग बंद रहे। इनमें से छह सड़कें एक से 10 सप्ताह बाद भी नहीं खुल सकी।

मंगलवार की रात मूसलाधार बारिश के बीच बागेश्वर तहसील के आरे में पूरन राम, कपकोट तहसील के छुरिया में गोपाल राम, गरुड़ तहसील के द्यौनाई में विनोद कुमार का आवासीय मकान बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। प्रभावित परिवारों ने भागकर जान बचाई।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/HhivdQAA

📲 Get Bageshwar News on Whatsapp 💬