[basti] - बाढ़ व कटान की मार, कई गांवों पर खतरा

  |   Bastinews

बाढ़ और कटान की मार, कई गांवों पर खतरा

दुश्वारी बरकरार, कटान से खतरे में गांव

खतरे के निशान से 49 सेमी ऊपर है नदी का जल स्तर

कई स्थानों पर पानी का दबाव कम, राहत में जिम्मेदा

दुबौलिया। सरयू नदी ने बुधवार को भी कहर बरपाना जारी रखा। जलस्तर खतरे के निशान 92.730 मीटर से 49 सेंटीमीटर ऊपर यानी अब भी 93.220 मीटर पर बह रही है। नदी का जलस्तर कम होने के बावजूद कटान जारी है। कई गांवों पर अब भी खतरा मंडरा रहा है।

नदी माझा और देवारागंगबरार में कृषि योग्य जमीन लगातार काट रही है। पूरेमोतीराम गांव के पास सामान्य कटान हुई तो अतिसंवेदनशील तटबंध कटरिया-चांदपुर पर स्थिति संभल गई, जिससे बाढ़ खंड के अधिकारियों ने राहत की सांस ली। तटबंध पर दबाव तो बरकरार रहा, लेकिन कटान नहीं हुई। गौरा-सैफाबाद तटबंध पर पारा गांव के पास बने ठोकरों, स्परों और किशुनपुर मोजपुर रिंगबांध, टकटवा रिंगबांध पर जलस्तर घटने से पानी का दबाव कम हुआ। जलस्तर कम होने के बावजूद बाढ़ प्रभावित गांव सुविखा बाबू, टेढ़वा, भूअरिया, सतहा के ग्रामीणों की दुश्वारियां कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। इधर, बारिश थमने से कटरिया-चांदपुर तटबंध पर बाढ़ खंड ने मरम्मत कार्य तेज कर दिया है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/KLUj4wAA

📲 Get Basti News on Whatsapp 💬