[bhopal] - तीन पीढिय़ों ने दिखाया कारंत का जीवन

  |   Bhopalnews

भोपाल। भारत भवन में चल रहे 'आदरांजलि' नाट्य समारोह में कन्नड़ नाटक 'रंगजंगम' का मंचन हुआ। एक घंटे बीस मिनट के इस नाटक में 17 कलाकारों ने अभिनय किया। इस नाटक की खास बात यह है कि इसके डायरेक्टर और प्रमुख कलाकार बव कारंत के शिष्य हैं, जिन्होंने मैसूर स्थित रंगायन रेपर्टरी में उनसे अभिनय करना सीखा था। वहीं अन्य कलाकार शिष्यों के शिष्य व नवोदित कलाकार हैं। नाटक में कारंत की नाटक करने की विभिन्न शैलियों को कन्नड़ भाषा में प्रस्तुति किया। नाटक के माध्यम से तीन पीढिय़ों ने उन्हें शृंद्धाजंलि दी। नाटक के लेखक और निर्देशक एस रामनाथ हैं। नाटक का उद्देश्य निर्देशन, कैरेक्टर पर काम, रंगसंगीत के माध्यम से और रंगशिक्षक के रूप में उनके विचारों को प्रस्तुत करना है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/G3gt0QAA

📲 Get Bhopal News on Whatsapp 💬