[bilaspur] - शिक्षकों पर है नई पीढ़ी के निर्माण की जिम्मेदारी अपने दायित्वों को ईमानदारी से करें पूरा- डॉ.रमन

  |   Bilaspur-Chattisgarhnews

बिलासपुर . मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने कहा कि राज्य के शिक्षाकर्मियों और उनके परिवार को सम्मान से जीने का अवसर दिया है। राज्य सरकार ने शिक्षाकर्मियों के लिए ऐतिहासिक निर्णय लेकर उनकी समस्या का समाधान किया है। नई पीढ़ी के भविष्य निर्माण में शिक्षकों का विशेष दायित्व रहता है।

डॉ. सिंह शिक्षक दिवस के अवसर पर बुधवार को तिफरा में झूलेलाल मंगलम में आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि की आसंदी से संबोधित कर रहे थे। उन्होंने शिक्षक सम्मान समारोह में जिले के 17 शिक्षकों का शाल एवं श्रीफल भेंटकर सम्मान किया। मुख्यमंत्री ने पूर्व राष्ट्रपति, शिक्षाविद सर्वपल्ली डॉ. राधा कृष्णन के चित्र के समक्ष दीप प्रज्ज्वलित कर समारोह का शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने कहा, 5 सितंबर शिक्षक दिवस शुभ दिन होता है। इस शुभ दिन पर डोंगरगढ़ में मां बम्बलेश्वरी के दर्शन से विकास यात्रा के दूसरे चरण की शुरुआत हुई। इस शुभ दिन पर गुरु वशिष्ठ से लेकर चाणक्य और समारोह में उपस्थित सभी शिक्षकों का नमन करता हूं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नई पीढ़ी के निर्माण की महती जिम्मेदारी शिक्षकों पर होती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज मे हर व्यक्ति की जिम्मेदारी होती है। शिक्षक अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन पूरी ईमानदारी से करते हैं तभी समाज आगे बढ़ता है। नई पीढ़ी को संस्कार मिलते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा एक लाख से अधिक शिक्षाकर्मियों का संविलियन हो गया। शेष शिक्षाकर्मियों का भी संविलियन भविष्य में हो जाएगा।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/6QXoiwAA

📲 Get Bilaspur-Chattisgarhnews on Whatsapp 💬