[damoh] - कांग्रेस से इस बार स्थानीय को टिकट देने पर जोर

  |   Damohnews

दमोह. अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित हटा विधानसभा सुरक्षित सीट से विधायक उमादेवी खटीक अपना दूसरा कार्यकाल पूर्ण कर रही हैं। शिक्षक पद छोड़कर सीधे चुनाव लड़कर दो बार से विधायक उमादेवी की डंवाडोल स्थिति होने से उनकी टिकट कटना तय मानी जा रही है।

वर्तमान विधायक उमादेवी खटीक अपने पिछले दो कार्यकालों में विवादों में घिरी रही हैं। इनके पति लालचंद खटीक पर छोटे से छोटे काम में रुपए के लेनदेन किए जाने से लेकर सत्ता से लेकर संगठन तक विधायक के परिजनों के रवैए से नाराज है। हाल ही में पुत्र द्वारा सांसद ज्योतिरादित्य को गोली मारने की धमकी देने से भी उमादेवी को टिकट मिलने में संशय की स्थिति बनने लगी है। इस बार भाजपा से रामकली तंतुवाय जो 2013 का चुनाव में सपा की टिकट पर लड़ चुकी हैं, उन्हें 1566 मत मिले थे। आलोक अहिरवार दमोह जनपद अध्यक्ष हैं, इनके पिता का हटा क्षेत्र में प्रभाव है। साथ आधा दर्जन से अधिक भाजपा नेता हटा विधानसभा से टिकट की चाह रख रहे हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tpKw4gAA

📲 Get Damoh News on Whatsapp 💬