[dhanbad] - प्रबंधन रैयतों को जमीन सत्यापन की समय सीमा बताए

  |   Dhanbadnews

मुआवजा का स्वरूप भी रैयतों को बताने को कहा

फुसरो : सीसीएल ढोरी प्रक्षेत्र की बंद पिछरी कोलियरी में बुधवार को पेटरवार सीओ प्रणव अंबष्ठ ने त्रिपक्षीय बैठक की. सीसीएल प्रबंधन व रैयतों के साथ बैठक में सीओ ने बताया कि अंचल अमीन द्वारा पिछरी कोलियरी की जमीन की मापी और उसके सत्यापन के बाद रैयतों की जमीन चिह्नित होगी. इसके बाद रैयतों को कागजात सौंपना होगा. उन्होंने सीसीएल अधिकारियों से रैयतों से कागजात लेने की समयसीमा तय करने को कहा. इसके साथ ही प्रबंधन से रैयतों को मुआवजा का स्वरूप बताने को कहा.

प्रबंधन अल्टीमेटम जारी करे : कहा कि सीसीएल अधिकारी नोटिस जारी करें कि रैयतों को कब से कब तक जमीन का कागजात जमा करें और सीसीएल जमीन के बदले रैयतों को क्या देगी. रैयतों ने सीओ से शिकायत की कि प्रबंधन ने 100 एकड़ जमीन पर पहले ही अवैध ढंग से खनन कर लिया है. इसका मुआवजा भी नहीं दिया गया है. कहा कि रैयत प्रबंधन के नोटिस के बिना जमीन का कागजात नहीं सौंपेंगे. कहा कि सीसीएल प्रबंधन जिला प्रशासन को बरगलाकर कोलियरी चालू करना चाह रहा है. प्रबंधन हमेशा विस्थापितों के साथ अन्याय और दमनकारी नीति अपना रहा है....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/CGEVFwAA

📲 Get Dhanbad News on Whatsapp 💬