[dungarpur] - रोटी बैंक का सपना, भूखा न सोये कोई अपना

  |   Dungarpurnews

रोटी बैंक का सपना, भूखा न सोये कोई अपना

डूंगरपुर. स्वच्छता और पर्यटन की नजीर बन चुका डूंगरपुर देश से लेकर विदेशो में अपने अनूठे नवाचार और नए आयाम स्थापित कर सभी शहरों के लिए एक उदाहरण प्रस्तुत कर रहा है। राजस्थान पत्रिका के कीनोट माय सिटी कार्यक्रम से प्रेरित होकर नगरपरिषद की ओर से शुरू किया गया रोटी बैंक हर रोज 100 से सवा सौ लोगों को नि:शुल्क भरपेट भोजन उपलब्ध करा रहा है।

डूंगरपुर के नर्सिंग प्रशिक्षक प्रेमांशु पण्ड्या पिछले कुछ दिनों से भूखों को भोजन उपलब्ध कराने की भावना से प्रयास कर रहे थे। उन्होंने सभापति के.के.गुप्ता से भी अपने विचार सांझा किए। इस बीच पत्रिका कीनोट में मुंबई के रोटी बैंक संस्थापक सुभाष तलेकर डब्बावाला के आगमन की सूचना पाकर उनकी भावना बलबती हेा गई। २० अगस्त को नगरपरिषद और मेडिकल कॉलेज के सांझे में विजियाराजे सिंधिया ऑडिटोरियम में कीनोट हुआ। वहां डब्बावाला ने अपने काम का तरीका सांझा करते हुए डूंगरपुर में भी रोटी बैंक शुरू करने का आह्वान किया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ovKIUgAA

📲 Get Dungarpur News on Whatsapp 💬