[ghazipur] - उन्नीस घंटे बाद लोगों को हुआ बिजली का दर्शन

  |   Ghazipurnews

सुहवल। ढढ़नी-जमनिया के बीच मंगलवार की रात करीब आठ बजे हाईटेंशन का खंभा टूट कर गिर गया। इससे ढढ़नी, सुहवल एवं रेवतीपुर विद्युत उपकेंद्रों से संबंधित सैकड़ों गांवों की बत्ती गुल हो गई। बिजली के अभाव में गर्मी की वजह से लोग पूरी रात चैन से सो नहीं सके, वहीं सुबह पानी के लिए परेशान होना पड़ा। दूसरे दिन बुधवार को 19 घंटे बाद बिजली का दर्शन होने पर लोगों ने राहत की सांस ली।

जमानिया स्थित 132 विद्युत सब-स्टेशन से ढढ़नी, सुहवल और रेवतीपुर विद्युत उपकेंद्र पर 33 हजार की लाइन गुजरती है। रात में करीब आठ बजे ढढ़नी-जमनिया के बीच हाईटेंशन तार का खंभा गिर गया। इससे ढढ़नी, सुहवल एवं रेवतीपुर विद्युत उपकेंद्र से संबंधित सोनवल, खजुहां, अंधारीपुर, सुगवलिया, मलसा, गरूआ मकसूदपुर, डुहिया, चवरी, कुल्हरिया, अंधियारा, रमवल, इजरी, भगीरथपुर, ढढ़नी, घाटमपुर, सरैयां, मेदनीपुर, कालूपुर, ताड़ीघाट, सुहवल, बवाड़ा, भिक्खीचौरा, युवराजपुर, पटकनिया, बड़ौरा, पटखौलियां, गौरा, डेढगावां, कल्यानपुर, नगदीलपुर, रामपुर साधोपुर, हसनपुरा, रेवतीपुर, नवली, त्रिलोकपुर, उत्तरौली, अठहठा, टौंगा, गोपालपुर, तिलवां, सुजानपुर, नरायनापुर सहित दर्जनों गांव की बत्ती गुल हो गई। इससे भीषण गर्मी में लोगों में लोगों की परेशानी बढ़ गई। लोगों ने सोचा कि कही खराबी हुई होगी, उसे ठीक तक अब-तब आपूर्ति शुरू कर दी जाएगी, लेकिन जब देर रात तक बिजली का दर्शन नहीं हुआ, तो लोग आशंका व्यक्त करने लगे कि लगता है कि बड़ा फाल्ट हुआ है। गर्मी में परेशानियों के बीच बिजली का इंतजार करते-करते लोगों ने रात बीता दिया, लेकिन दर्शन नहीं हुआ। सुबह लोगों को पानी के लिए परेशान होना पड़ा। घरों के आस-पास लगे हैंडपंपों और कुओं तक की दौड़ लगानी पड़ी। 19 घंटा बाद शाम को चार बजे बिजली का दर्शन होने पर लोगों ने राहत की सांस ली। इस संबंध में अवर अभियंता संतोष मौर्या ने बताया कि जमानिया क्षेत्र में 33 हजार का हाईटेंशन खंभा गिरने से सुहवल, ढढ़नी एवं रेवतीपुर सब स्टेशनों से संबंधित क्षेत्रों की आपूर्ति ठप थी। खम्भा को दुरुस्त कर शाम को चार बजे सप्लाई सुचारू करा दी गई।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/msR_dgAA

📲 Get Ghazipur News on Whatsapp 💬