[jaipur] - जान और मौत में चला 45 मिनट का खेल, बच्चों के प्यार पर भारी पड़ी पति की नफरत

  |   Jaipurnews

मुकेश शर्मा

जयपुर. आइआरएस बिन्नी शर्मा के आत्महत्या मामले में हृदयविदारक खुलासा हुआ है। कमरे में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज से सामने आया कि बिन्नी ने पंखे से चुन्नी बांधकर गले में फंदा तो लगा लिया लेकिन जान बच्चों में अटकी थी। गले से फंदा खोलकर दोनों बच्चों की फोटो ली और सीने से लगाई। कुछ देर फोटो को चूमा, फिर गले में फंदा लगा लिया।

करीब 45 मिनट तक बिन्नी रह-रहकर गले में फंदा लगातीं, फिर बच्चों की फोटो देख गले से फंदा वापस खोलती। आखिर बच्चों की ममता पर मानो पति और सास की प्रताडऩा भारी पड़ी, 45 मिनट बाद बिन्नी फंदे से झूल गईं। फुटेज जिसने भी देखे, आंखें नम हो गईं। अब तक चुप्पी साधे रहे अजमेर निवासी पिता चन्द्रमोहन शर्मा ने पहली बार राजस्थान पत्रिका से बात की। बोले, यही चाहता हंू कि बेटी को न्याय मिले। बिन्नी के आइएएएस पति गुरप्रीत सिंह वालिया और सास रवीन्द्र कौर ने उसे प्रताडि़त किया, इसके कई सबूत पुलिस को दिए हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/nhq1QAAA

📲 Get Jaipur News on Whatsapp 💬