[jalore] - गोल मठाधीश के अंतिम दर्शन के लिए उमड़ा श्रद्धालुओं का सैलाब

  |   Jalorenews

जालोर/केशवना (उम्मेदाबाद). चारों ओर गूंजते धर्म के जैकारे, श्रद्धा से सराबोर श्रद्धालु और आसमान में उड़ता गुलाल। मौका था बुधवार को गोल (उम्मेदाबाद) स्थित शीलेश्वर महादेव मठ के मठाधीश रावताभारती के देवलोकगमन पर निकाली गई अंतिम यात्रा का। बैकुंठी में निकाली गई संत की अंतिम यात्रा के दौरान दर्शन को लेकर श्रद्धालुओं का सैलाब उमड़ पड़ा। दशनाम नवनाथ षड् दर्शन मंडल के अध्यक्ष महंत रावतभारती का देवलोकगमन बुधवार अलसवेरे करीबन पांच बजे हुआ।

महंत के देवलोकगमन का समाचार सुनते ही अलसवेरे से ही मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया। दोपहर करीबन 12 बजे विधिवत रूप से संत की बैकुंठी निकाली गई। इससे पहले मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं ने संत की पार्थिव देह के समक्ष नारियल और श्रद्धा सुमन अर्पित किए। बैकुंठी में केशवना, आलासन, खरल, ओटवाला, ऐलाना, डांगरा, सायला, कतरोसन व मांडवला समेत जालोर, सिरोही, पाली व अन्य प्रांतों से भी श्रद्धालु पहुंचे। मंदिर परिसर से ढोल ढमाकों व बैंड पर भक्ति गीतों के साथ बैकुंठी रवाना हुई जो विभिन्न मार्गों से होकर पुन: मंदिर परिसर पहुंची। जहां भैंसवाड़ा मठ के महंत रणछोड़भारती समेत अन्य साधु-संतों के सान्निध्य में अन्नपूर्णा मंदिर के निकट पूर्व में स्थापित समाधि स्थल पर संत को करीबन 3 बजे समाधि दी गई। इस दौरान भवानीसिंह बाकरा, लक्ष्मणसिंह ऐलाना, नारायणसिंह केशवना, तखतसिंह पहाड़पुरा, लच्छीराम माली, दामोदर खत्री, दौलतसिंह, रूपसिंह, पहाड़सिंह, जोरसिंह, कमलेश यति, मोहनमाली, भोलाराम, गोपालसिंह पुरोहित सांकरणा, सरपंच गजाराम राणा व उपसरपंच नगेन्द्रयति सहित आस-पास के दर्जनों गांवों के लोग मौजूद थे।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/uYaY2gAA

📲 Get Jalore News on Whatsapp 💬