[janjgir-champa] - डिलीवरी रूम और दवा स्टोर में ताला लगाकर आराम फरमाने घर चली जाती हैं यहां तैनात नर्स

  |   Janjgir-Champanews

बम्हनीडीह. विकासखंड बम्हनीडीह में संचालित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र विभाग की लापरवाही के चलते भगवान भरोसे चल रहा है। यहां लोगों को समय पर इलाज नहीं मिल पा रहा है। हद तो तब हो गई जब बुधवार को यहां एक छह साल की मासूम दर्द से कराहती रही और उसे समय पर उपचार नहीं मिला। इसके बाद गरीब पिता मासूम की उसी हालत में निजी अस्पताल ले गया, जहां उसका इलाज किया गया।

बम्हनीडीह सीएचसी में इस तरह का यह पहला मामला नहीं है, बल्कि यह यह स्थिति आए दिन रहती है। यहां ड्यूटी पर रहने वाला स्टॉफ और डॉक्टर ओपीडी समय के दौरान तो रहते हैं, लेकिन उसके बाद सीएचसी का भगवान ही मालिक रहता है। यहां तैनात नर्स डिलीवरी रूम और दवा स्टोर रूम में ताला लगाकर अपने घर आराम फरमाने चली जाती हैं। ऐसा ही कुछ हुआ रोहदा निवासी हर कुमार साहू बुधवार को अपनी 6 वर्षीय बेटी वेदिका साहू को इलाज के लिए सीएचसी लेकर पहुंचा था। वह दीवार ढह जाने से उसमें दब कर बुरी तरह घायल हो गई थी। सीएचसी में कोई स्टॉफ मौजूद नहीं था। दो घंटे तक नर्स के न आने से बच्ची वहीं दर्द से कराहती रही।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/9bE86AAA

📲 Get Janjgir-champanews on Whatsapp 💬