[karauli] - दलित युवाओं ने तहसील में किया विरोध-प्रदर्शन

  |   Karaulinews

हिण्डौनसिटी. दो अप्रेल के भारत बंद एवं भीमा कोरेगांव के घटना के दौरान दर्ज मुकदमों को वापस लेने व भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर रावण की जेल से रिहाई की मांग को लेकर भीम आर्मी व टीम राजस्थान के संयुक्त तत्वावधान में दलित युवाओं ने बुधवार को तहसील परिसर में प्रदर्शन किया। बाद में पंचायत समिति पहुंच एसडीओ सुरेशचंद बुनकर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन सौंपा। विरोध-प्रदर्शन को देखते हुए सुबह से ही तहसील परिसर में पुलिस जाप्ता तैनात रहा।

टीम राजस्थान के जिला संयोजक सुरेशचंद बनकी व भीम आर्मी के पिन्टू जाटव ने बताया कि महाराष्ट्र के पुणे में एक जनवरी 2018 को हुए भीमा-कोरेगांव जातीय संघर्ष में सरकार ने दलितों पर झूठे मामले दर्ज कर लिए। सैंकड़ों बेगुनाहों को पकड़ कर जेल में बंद कर दिया। एससी-एसटी एक्ट में सुप्रीम कोर्ट द्वारा किए बदलाव के विरोध में दो अप्रेल को हुए भारत बंद के दौरान भी बेकसूर दलितों पर एफआईआर दर्ज की गई। उन्होंने बताया कि उत्तरप्रदेश में हो रहे दलित अत्याचारों के विरोध में काम कर रहे भीम आर्मी के संस्थापक चन्द्रशेखर रावण को योगी सरकार ने रासुका लगाकर जेल में बद कर दिया। देशभर में लगातार हो रहे उत्पीडऩ से दलित वर्ग में आक्रोश पनप रहा है। उन्होंने बताया कि अगर शीघ्र ही दो अप्र्रेल के भारत बंद व भीमा-कोरेगांव मामले के दलितों पर दर्ज मुकदमें वापिस नहीं लिए और चन्द्रशेखर को रिहा नहीं किया तो देशभर में दलित समाज की ओर से आंदोलन किया जाएगा।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/nvQa7AAA

📲 Get Karauli News on Whatsapp 💬