[kota] - एकाउंटिंग एंड फाइनेंस पीजी वाले छात्र नहीं बन पाएंगे शिक्षक

  |   Kotanews

कोटा.

कोटा विश्वविद्यालय से एमकॉम 'एकाउंटिंग एंड फाइनेंसÓ करने वाले छात्र स्कूल और कॉलेजों में शिक्षक नहीं बन पाएंगे। राजस्थान लोक सेवा आयोग (आरपीएससी) की सब्जेक्ट इक्युलेंस कमेटी ने इस पाठ्यक्रम को रेग्युलर एमकॉम के समकक्ष नहीं माना है। इसके बाद सैकड़ों छात्रों का भविष्य अधर में अटक गया है।

कोटा विवि के कॉमर्स एंड मैनेजमेंट डिपार्टमेंट ने वर्ष 2011 में एमकॉम 'एकाउंटिंग एंड फाइनेंस का कोर्स शुरू किया था। इस पाठ्यक्रम को चार्टर्ड एकाउंटेंट और एमबीए फाइनेंस का साझा स्वरूप बताते हुए हर साल 40 छात्रों को दाखिले दिए गए। विवि का दावा था कि कॉलेजों में पढ़ाए जाने वाले रेग्युलर एमकॉम में सिर्फ 12 ही प्रश्न पत्र पढ़ाए जाते हैं, जबकि इस स्पेशलाइज्ड कोर्स में आठ अतिरिक्त प्रश्रपत्रों की पढ़ाई कराई जाएगी। इससे छात्रों को वित्त और लेखांकन में महारथ हासिल हो सकेगी और उन्हें प्राइवेट ही नहीं, पब्लिक सेक्टर में भी नौकरियां मिल जाएंगी।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/1Dw9WQAA

📲 Get Kota News on Whatsapp 💬