[kushinagar] - बेकार साबित हो रहे ओवरहेड टैंक

  |   Kushinagarnews

छह साल पहले बने ओवरहेड टैंक से जलापूर्ति नहीं

टेस्ंिटग के दौरान ही फट गई थी जलापूर्ति की पाइप

पिपरा कनक। विकास खंड तमकुही के समउर बाजार की 25 हजार की आबादी को स्वच्छ पानी पीने को नहीं मिल पा रहा है। गांव में ओवरहेड टैंक बने छह साल हो गया लेकिन जलापूर्ति अब तक शुरू नहीं हो पाई। टैस्टिंग के दौरान ही जलापूर्ति की पाइप फट जाने के कारण काम अधूरा पड़ा हुआ है। गांव वाले अब आंदोलन की तैयारी कर रहे हैं।

पेयजल पुनर्गठन योजना के तहत समउर बाजार में जलापूर्ति की व्यवस्था के लिए वर्ष 2008-9 में 1.17 करोड़ की योजना बनाई गई। इसके बाद में ओवरहैड टैंक का निर्माण शुरू हुआ। करीब छह साल पहले बने ओवरहेड टैंक से अब तक जलापूर्ति शुरू नहीं हुई। लगभग 22 टोलों में बसे गांव के लोगों को शुद्ध पानी उपलब्ध कराने के लिए इसका निर्माण कराया गया था। इसे चलाने के लिए छह साल पहले ही विद्युुत का कनेक्शन भी लिया गया है। जलापूर्ति के नाम पर हर माह बिजली का बिल भी आ रहा है। बावजूद इसके लोग शुद्ध पानी के लिए तरस रहे हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/HShvuAAA

📲 Get Kushinagar News on Whatsapp 💬