[lakhimpur-kheri] - बाघ ने एक गाय और बकरी को बनाया निवाला

  |   Lakhimpur-Kherinews

दो बाघों ने गाय और बकरी को बनाया निवाला

ममरी। गन्ने के खेतों में विचरण कर रहे एक बाघ ने मंगलवार की शाम गांव परवस्तनगर के पास छुट्टा गाय को और दूसरे बाघ ने कठिना नदी के घमहाघाट पर बकरी को अपना निवाला बनाया। बाघ के बढ़ते हमलों से ग्रामीणों में दहशत है। एक ही दिन दो स्थानों पर बाघ के हमले होने और पशुओं के आधे खाए हुए शव, पग चिह्न मिलने की पुष्टि वन विभाग के कर्मचारियों ने भी की है। वन कर्मियों ने बताया कि एक नहीं बल्कि दो बाघ इलाके में मौजूद हैं।

सुंदरपुर के बीडीसी राम कुमार वर्मा, प्रधान रामबिलास चौधरी, घमहाघाट के सरदार लाल सिंह, इंद्रजीत सिंह, बख्शीश सिंह, कश्मीर सिंह आदि ने बताया कि मंगलवार की शाम करीब पांच बजे सुंदरपुर निवासी श्रीकृष्ण गौतम वनरेंज मोहम्मदी महेशपुर के देवीपुर बीट के जंगल से सटे बाबा बालक दास स्थान पर बकरियां चरा रहा था। इसी बीच गन्ने के खेत में मौजूद बाघ ने बकरी पर हमला कर उसे खेत में खींच ले गया और अपना निवाला बना लिया। वहां मौजूद ग्रामीणों ने शोर मचाया और आग जलाया तो बाघ बकरी का आधा खाया शव छोड़कर जंगल की ओर चला गया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/LirMDQAA

📲 Get Lakhimpur Kheri News on Whatsapp 💬