[moradabad] - बारिश होने से वायु प्रदूषण में आई कमी

  |   Moradabadnews

मुरादाबाद।

बारिश से सूबे के सबसे प्रदूषित शहरों में शुमार महानगर की हवा की गुणवत्ता में सुधार हुआ है। वायु में मौजूद सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने वाले एसपीएम (सालिड पार्टिकल मेटर) में भारी कमी आ गई है। इससे आंखों में जलन होना बंद हो गया है और सांस लेने में सुखद अनुभव हो रहा है।

महानगर प्रदेश केसबसे प्रदूषित शहरों में शामिल है। ज्यादा प्रदूषण वाले 15 शहरों की सूची में मुरादाबाद का पांचवां नंबर है। यहां पर सबसे ज्यादा प्रदूषण एसपीएम और हानिकारक गैसों का है। प्रदूषण से शहर की हवा से आंखों में जलन होने, त्वचा पर एलर्जी होने और चेहरे-बालों में रूखापन होता था। सांस की नली में एलर्जी के मामले भी लगातार सामने आ रहे थे। हालत यह थी कि शहर की हवा में एसपीएम की मात्रा 50 मानक के सापेक्ष 350 रिकार्ड की गई थी। हवा में कार्बन, माइक्रो रबर और लेड की मात्रा भी मानकों से कई गुना पाई जा रही थी।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/nihahAAA

📲 Get Moradabad News on Whatsapp 💬