[raipur] - दिल और फेफड़े से चिपका था 3.5 किलो का ट्यूमर, डॉक्टरों ने घंटों ऑपरेशन कर बचाई मरीज की जान

  |   Raipurnews

रायपुर. छत्तीसगढ़ की राजधानी के एसीआई (एडवांस कार्डिएक इंस्टीट्यूट) के डॉक्टरों ने एक और मरीज के ट्यूमर का इलाज कर नई जिंदगी दी है। जगदलपुर से आए 30 वर्षीय अविवाहित ट्रेजरी ऑफिसर छाती के बांयी ओर दिल के ऊपर 3.5 किलो का ट्यूमर लिए जी रहा था, जिस वजह से उसे बाएं हाथ में दर्द के साथ सांस लेने में परेशानियां हो रही थी। इस पर अखबारों के माध्यम से एसीआइ की जानकारी पाकर वह सीटीवीएस के विभागाध्यक्ष डॉ. के.के. साहू के पास आया।

डॉक्टर साहू ने बताया, कि मरीज सरकारी अस्पताल में इलाज कराने से कतरा रहा था, जिस पर डॉक्टरों ने उसका सफल इलाज करने की बात कही और अस्पताल का भ्रमण कराया। जिसके बाद मरीज ने खुद ही एसीआइ को निजी अस्पताल से भी अच्छा माना और इलाज के लिए तैयार हुआ। इस पर डॉक्टरों ने 22 अगस्त को उसे भर्ती किया और 26 अगस्त को उसका सफल ऑपरेशन किया। जिसके बाद 9 दिनों के गहन निरीक्षण के बाद 4 सितंबर को उसे अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया। एसीआइ की टीम में डॉ. के.के.साहू और एनेस्थीशिया डॉ. ओ.पी. सुंदरानी शामिल हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/hBxs-AAA

📲 Get Raipurnews on Whatsapp 💬