[rajasthan] - सरकार हर जिले में बना रही है अल्पसंख्यक स्टूडेंट्स के लिए दो हॉस्टल

  |   Rajasthannews

राजस्थान अल्पसंख्यक मामलात विभाग प्रदेश में अल्पसंख्यक तबके से ताल्लुक रखने वाले छात्रों को बेहतर तालीम मुहैया कराने के लिए हर जिले में बालक एवं बालिकाओं के लिए एक-एक माइनॉरिटी हॉस्टल खोलने जा रहा है. हालांकि महकमें की ओर से कई जिलों में ये हॉस्टल चलाये जा रहे हैं और कई जिलों में सामाजिक संस्थाओं के जरिए ये सुविधाएं दी जा रही है, लेकिन एनजीओ की मदद से चलाए जा रहे हॉस्टल्स का फीडबैक ठीक नहीं आने के बाद विभाग कोशिश कर रही है कि प्रत्येक जिले में एक-एक सरकारी हॉस्टल बना दिया जाए.

प्रदेश में साल 2012-13 में राजस्थान में पांच अल्पसंख्यकों के लिए हॉस्टल बनाए गए थे, जिनमें करीब 180 बच्चों को मदद मिली थी. इसके बाद साल 2013-14 में 25 हॉस्टल खोल गए, जिनमें 1121 बच्चों को लाभ मिला. 2014-15 में इस छात्रावासों की संख्या घटकर 14 हो गई, जिनसे मात्र 673 बच्चे ही लाभ उठा पाये. साल 2015-16 में इन छात्रावासों की संख्या 35 हो गई और करीब 1418 बच्चों को इनसे लाभ मिला....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/YfcKWgAA

📲 Get rajasthannews on Whatsapp 💬