[sagar] - केवल बोर्ड लगाकर चल रहे झूलाघर, अनुदान के नाम पर लाखों की चपत

  |   Sagarnews

रेशु जैन सागर. झूलाघर अनुदान के नाम पर सरकार को चपत लग रही है। अधिकांश संस्थाओं ने कागजों पर ही झूलाघर संचालित किए जा रहे हैं। घरों में झूलाघर का बोर्ड लगाकर लाखों रुपए निकाले जा रहे हैं, जिस संस्था के नाम पर फंड लिया जा रहा है, वह हकीकत में है ही नहीं। दरअसल, झूलाघर (क्रेंच) केंद्र सरकार की योजना है। इनमें छह माह से छह साल तक के बच्चे रखे जाते हैं। योजना का उद्देश्य कामकाजी महिलाओं के बच्चों की देख-भाल करना है। इस योजना के क्रियान्वयन का जिम्मा प्रदीप राय महिला बाल विकास अधिकारी का है। महिला बाल विकास अधिकार से बात करने के लिए कई बार कॉल किया गया, लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Xfkv8wAA

📲 Get Sagar News on Whatsapp 💬