[shajapur] - ऐसा क्या हुआ जो स्टाफ काउंसिल ने बदल दिया छात्रों के निष्कासन का फैसला

  |   Shajapurnews

शाजापुर. नवीन कॉलेज में 38 साल पहले 1979-80 में दर्जनभर विद्यार्थियों को मारपीट के मामले में स्टाफ काउंसिल की बैठक में निष्कासित कर दिया गया था। इसके बाद दोबारा काउंसिल की बैठक करके सभी के निष्कासन को रद्द करते हुए दोबारा प्रवेश दिया गया था। 38 साल पुरान घटनाक्रम बुधवार को फिर से नवीन कॉलेज में दोहराया गया, जबकि स्टाफ काउंसिल की बैठक करके निष्कासित किए गए छात्रों के निष्कासन को बुधवार को दोबारा बैठक आयोजित करके रद्द कर दिया गया। इस फैसले से छात्र संगठनों सहित सभी ने खुशी जाहिर की है।

नवीन कॉलेज में 3 माह पहले 19 मई को तत्कालीन प्रभारी प्राचार्य डॉ. वीके शर्मा ने उनके साथ अभद्रता करने की बात कही थी। इसके बाद 21 मई को कॉलेज के छात्र एवं एबीवीपी के प्रांत सहमंत्री श्याम टेलर और सावन मालवीय को कॉलेज से निष्कासित करने के लिए स्टाफ काउंसिल की बैठक में प्रस्ताव रखकर पास कराया था। प्रभारी प्राचार्य डॉ. शर्मा ने उक्त दोनों छात्रों को कॉलेज से निष्कासन की बात कही थी।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/-jhnJwAA

📲 Get Shajapur News on Whatsapp 💬