[sikar] - फेल होने पर सरकार वसूलेगी पूरा खर्चा

  |   Sikarnews

जोगेंद्र सिंह गौड़

सीकर. कार्मिक आशा को ८वीं और १०वीं पास कराने का जिम्मा अब चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग का रहेगा। पढ़ाई के लिए खर्चा भी विभाग अपने स्तर पर ही करेगा। हालांकि आशा को यह कक्षाएं पास करने के लिए दो बार मौके दिए जाएंगे। लेकिन, बावजूद इसके यदि आशा फेल हो जाती है तो उसकी पढ़ाई पर खर्च किया गया सारा पैसा सरकार उसके मानदेय से काटकर वसूल भी करेगी।

जानकारी के अनुसार चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की स्वास्थ्य सेवाओं के लिए फिल्ड में काम करने वाली आशा को विभाग अपने स्तर पर ही इन दोनों कक्षाओं की तैयारी करवाएगा। विभाग की इस योजना के तहत जिले की एेसी ३६ आशाओं का चयन आशा ज्योति कार्यक्रम में किया गया है। जिसमें शामिल होने के बाद ८वीं व १०वीं कक्षाओं में आशाओं का प्रवेश शुल्क, किताब व परीक्षा शुल्क तक का पुनर्भरण विभाग अपने स्तर पर करेगा। क्योंकि जिले में कई एेसी आशा सहयोगिनियां हैं। जो कि, आंगनबाड़ी क्षेत्र में नियमित अच्छा काम कर रही हैं। उन कम पढ़ी लिखी आशा सहयोगिनियों को उच्च शिक्षा से जोडऩे के लिए ८वीं व १०वीं पास कराने के लिए उन्हें आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाएगी। इनका दाखिला ओपन नेशनल स्कूल में कराया जाएगा। ताकि आशा को स्कूल नहीं जाना पडे़ और वह अपनी पढ़ाई घर बैठे-बैठे कर सके।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/h7O9pQAA

📲 Get Sikar News on Whatsapp 💬