[tehri] - शब्द और भाषा समझाने को इजाद की नई तकनीक

  |   Tehrinews

नई टिहरी। प्राइमरी/जूनियर स्कूलों की बदहाली की कहानी किसी से छुपी नहीं है, लेकिन कुछ शिक्षक ऐसे भी हैं जिनके प्रयासों से हालात बदल रहे हैं। ऐसे ही एक शिक्षक हैं जिनके सार्थक प्रयासों ने राजकीय आदर्श विद्यालय नई टिहरी को चर्चा में ला दिया है। शिक्षक आनंदमणि पैन्यूली ने अपने वेतन से भाषा लैब तैयार की है। लैब में छात्र-छात्राओं को खेल-खेल में अंग्रेजी, हिंदी और गढ़वाली भाषा सीखाई जाती है।

जाखणीधार ब्लॉक के तुनियार गांव निवासी आनंदमणि पैन्यूली 30 वर्षों से टिहरी जिले के अलग-अलग विद्यालयों में सेवाएं दे रहे हैं। 10 वर्षों से वह राजकीय आदर्श विद्यालय नई टिहरी में तैनात हैं। उनकी खासियत है कि नई तकनीक से पढ़ाई को आसान बनाना, ताकि सभी बच्चे शिक्षकों की बात को आसानी से समझ सके। इस काम को अंजाम तक पहुंचाने के लिए उन्होंने अपने डेढ़ लाख के वेतन से स्कूल में भाषा लैब बनाई है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/RhD-IQAA

📲 Get Tehri News on Whatsapp 💬