[udaipur] - Udaipur Sting : आधार कार्ड बनवाने में सबसे बड़ा फर्जीवाड़ा उजागर, जानिए कैसे हो रहा है यह खेल

  |   Udaipurnews

आधार की लूट के अड्डों पर बेखौफ बोल - सब बिकते हैं, ज्यादा इंक्वायरी मत करो

मुकेश हिंगड़/मोहम्मद इलियास

उदयपुर. आधार कार्ड बनवाने की प्रक्रिया निशुल्क और सरकारी परिसर में ही रखने की व्यवस्था कर सरकार ने भले ही देश भर के उन निजी केन्द्रों को ब्लैकलिस्टेड कर दिया, जो मनमानी का शुल्क वसूलते रहे। लेकिन, उदयपुर जिले में अभी तक फर्जीवाड़े का खेल जारी है। गांव व ढाणियां तो दूर रही, यहां जिला प्रशासन की नाक के नीचे लूट के अड्डे खुले हैं। फोटोकॉपी, स्टेशनरी व ई-मित्र केन्द्रों व दुकानों पर 100 से 200 रुपए में खुलेआम आधार कार्ड बनाए जा रहे है। देहलीगेट, कोर्ट चौराहा के आसपास फोटोकॉपी की दुकानों के अलावा छोटे केबिनों में भी यह कार्य बदस्तूर जारी है। राजस्थान पत्रिका टीम ने बुधवार को इस पूरे फर्जीवाड़े का स्टिंग किया तो चौंकाने वाली जानकारियां मिली। निजी केन्द्र के ऑपरेटरों को न तो प्रशासन का डर है और ना ही पुलिस का। बेखौफ कहा- सब बिकते हैं, आपको आधार कार्ड बनवाना है क्या? ज्यादा इंक्वायरी मत करो? पत्रिका टीम के एक साथी ने कहा कि उसका पुराना कार्ड खो गया है। पूछा कि नम्बर याद है। हां, कहने की देरी रही और दस मिनट में कार्ड थमा कर 150 रुपए ऐंठ लिए। इसी तरह एक अन्य महिला का भी आधार कार्ड वहां बनाया जा रहा था। देहली गेट तो एक उदाहरण मात्र है, पूरे शहर में लूट का खेल चल रहा है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/_3YVvgAA

📲 Get Udaipur News on Whatsapp 💬