[udham-singh-nagar] - प्रीतम से मदद न मांगता को नहीं जाती संजीव की जान

  |   Udham-Singh-Nagarnews

पूर्णागिरि मंदिर में दर्शन के लिए गया संजीव अगर परिजनों से बिछड़ने के बाद प्रीतम से अपने घर रुद्रपुर पहुंचने के लिए मदद नहीं मांगता तो शायद उसकी जान नहीं जाती। परिजनों से बिछड़ने के बाद तीन सौ रुपये जेब में लेकर घूम रहे संजीव ने प्रीतम से मदद मांगी और प्रीतम ने मदद करने के नाम पर जंगल में ले जाकर उसका कत्ल कर दिया।

21 मई 2017 को अपने दो बड़े भाइयों सुशील, दीपक और क्षेत्र के लोगों के साथ 16 साल का संजीव मां पूर्णागिरि के दर्शन के लिए गया था। संजीव के बड़े भाई दीपक और सुशील ने बताया कि 21 मई की रात करीब डेढ़ बजे पूरा जत्था भैरव मंदिर पहुंचा और एक धर्मशाला में रुककर स्नान आदि की व्यवस्था करने लगा। लेकिन, संजीव माता के दर्शन को इतना उतावला था कि उन्हें बताए बिना ही मां के दर्शन के लिए चला गया और दर्शन करके लौट आया।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/LcMaQwAA

📲 Get Udham Singh Nagar News on Whatsapp 💬