[ujjain] - केंद्र के विरोध में सड़कों पर उतरी महिलाए

  |   Ujjainnews

नागदा। केंद्र की मोदी सरकार द्वारा एससी/एसटी एक्ट में संशोधन कर उसे मूल स्वरूप में बहाल किए जाने के विरोध में लेकर गुरुवार को सवर्णों द्वारा बुलाए गए भारत बंद का शहर में व्यापक असर देखने को मिला है। व्यापारियों ने जहां स्वेच्छा से अपने प्रतिष्ठानों को बंद रख कर भारत बंद का समर्थन किया। बंद को देखते हुए शहर के स्कूलों-कॉलेजों में भी अवकाश रखा गया। पेटेल पंपो पर भी ताला जड़े रहने से वाहन चालक परेशान नजर आए। ईधर बंद के दौरान किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन पूरी तरह अलर्ट नजर आया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अंतरसिंह कनेश खुद शहर में मौजूद रह कर कानून व्यवस्था पर नजर बनाई रखी थी। हांलाकि बंद पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा कहीं से भी कोई विवाद या अप्रिय स्थिति के समाचार नहीं मिलें। शाम 4 बजे सपाक्स व अन्य सवर्ण संगठनो की अगुवाई में स्थानीय कन्या शाल चौराहे पर सवर्ण समाज की सभा हुई जिसमें बड़ी संख्या में महिलाओं के अलावा शहर के व्यापारियों और अन्य समाजजन ने भाग लेकर केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए एट्रोसिटी एक्ट को काला कानून बताते हुए इसे तत्काल वापस लेने और आरक्षण को समाप्त कर इसे आर्थिक आधार पर लागू करने की पूरजोर तरीके से मांग की गई। सभा के बाद सभी लोग रैली के रूप में मंडी थाने पहुंचे और वहां राष्ट्रपति के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/-THgqwAA

📲 Get Ujjain News on Whatsapp 💬