[uttar-pradesh] - 'पिता और चाचा को हाशिए पर ढकेलकर बुआ के आगे हाथ जोड़े खड़े हैं अखिलेश'

  |   Uttar-Pradeshnews

भारतीय जनता पार्टी ने गुरुवार को कहा कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव अपने पिता मुलायम सिंह यादव और चाचा शिवपाल यादव के साथ तो पारिवारिक गठबंधन निभा नहीं पा रहे हैं और भाजपा विरोधी राजनीतिक गठबंधन बनाने की बात कह रहे हैं. जिन व्यक्तियों ने उन्हें पाल पोसकर राजनीति में खड़ा किया, उन्हीं से अखिलेश यादव को खतरा हो गया है. इस सोच के चलते वह किसी अन्य दल से गठबंधन कैसे कर पाएंगे?

बीजेपी प्रदेश मुख्यालय पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए प्रदेश प्रवक्ता डॉ चन्द्रमोहन ने कहा कि अखिलेश यादव की राजनीति में जो हैसियत है, वह इनके पिता और चाचा की बदौलत ही है. जिन्होंने समाजवादी पार्टी की स्थापना कर उसे आगे बढ़ाया. अखिलेश यादव ने पहले तो अपने पिता से पार्टी का नेतृत्व छीना और अब उनकी घोर उपेक्षा भी कर रहे हैं. अपने पुत्र की कारगुजारियों से बेहद दुखी होकर मुलायम सिंह यादव को सार्वजनिक मंच से कहना पड़ा कि आज उनका कोई सम्मान नहीं करता, शायद मरने के बाद करे. इस बयान से ही साबित हो जाता है कि मुलायम सिंह किस पीड़ा से गुजर रहे हैं....

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/0j_g3gAA

📲 Get UttarPradesh News on Whatsapp 💬