[azamgarh] - सड़क पर बस खड़ी करने वाले विद्यालयों को जारी करें नोटकिस

  |   Azamgarhnews

आजमगढ़। सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए लोगों में सुरक्षा और यातायात नियमों के पालन के प्रति जागरूकता लाना जरूरी है। लगातार हो रही सड़क दुर्घटओं से स्पष्ट हो रहा है कि लोग सड़क सुरक्षा के प्रति पूरी तरह सजग और सतर्क नहीं हैं। उक्त बातें मंडलायुक्त जगतराज ने गुरुवार को मंडलायुक्त सभागार में आयोजित मंडलीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में कही। मंडलायुक्त ने कहा कि मुख्य सड़कों पर जहां अस्पताल और विद्यालय हैं वहां पर साइनेज लगवाया जाए। परिवहन विभाग, पुलिस विभाग और लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों द्वारा चिन्हित ब्लैक स्पाट को तत्काल ठीक कराया जाए। बच्चों द्वारा दिए गए सकारात्मक संदेशों का लोगों पर काफी असर होता है, इसलिए सड़क सुरक्षा से संबंधित पंफलेट छपवाकर स्कूलों में वितरित कराया जाए।एडी बेसिक को निर्देश दिया कि सड़क सुरक्षा के लिए स्कूलों में प्रति सप्ताह समय निर्धारित करते हुए बच्चों को यातायात नियमों की जानकारी देने की व्यवस्था करें। दोपहिया वाहनों के लिए हेलमेट की अनिवार्यता को सुनिश्चित करने के लिए लगातार चेकिंग करें। उन्होंने संयुक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा को निर्देश दिया कि मोटर साइकल से बिना हेलमेट स्कूल आने वाले छात्रों को स्कूल में दाखिल होने से रोकने की अग्रेतर कार्रवाई करें। उन्होंने संभागीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिया कि स्कूल वाहन चालकों के प्रशिक्षण की कार्रवाई जल्दी कराएं। प्राय: विद्यालयों की बसें सड़कों पर खड़ी रहती हैं जिससे यातायात बाधित होता है। उन्होंने आरटीओ को निर्देशित किया कि जिन विद्यालयों की बसें सड़कों पर खड़ी होती हैं उन विद्यालयों को तत्काल नोटिस जारी करें। पुलिस, परिवहन और मजिस्ट्रेट की संयुक्त टीम बनाकर सघन चेकिंग अभियान चलाया जाए। चेकिंग में जो भी बिना हेलमेट, बिना सीट बेल्ट, वाहन चलाते समय मोबाइल का प्रयोग करते और नशे की हालत में वाहन चलाते हुए मिले उसके खिलाफ कार्रवाई की जाए। इस मौके पर संभागीय परिवहन अधिकारी दरोगा सिंह, एसपी यातायात तारिक मुहम्मद, एडी स्वास्थ्य डा. एनएल यादव, डीडी पंचायती राज जयदीप त्रिपाठी आदि उपस्थित थे।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/411D-AEA

📲 Get Azamgarh News on Whatsapp 💬