[azamgarh] - हालत में सुधार पर बोल नहीं पा रहा चालक

  |   Azamgarhnews

आजमगढ़। बदमाशों के हत्थे चढ़े आटोरिक्शा चालक मुसाफिर (33) पुत्र काशीराम की हालत में दूसरे दिन गुरुवार की शाम तक जरुर कुछ सुधार रहा, लेकिन वह अभी पूरी तरह से स्वस्थ्य नहीं हो पाया है। ना ही अभी ठीक तरह से वह बात ही कर पा रहा है। पूछताछ के दौरान वह थोड़ा-बहुत इशारा जरुर कर रहा। उसके मुताबिक तीन लोग शहर से आटोरिक्शा बुक कराए थे। रास्ते में पेप्सी में नशीला पदार्थ मिलाकर उसे पिलाकर बेहोश किए थे। बदमाश आटो चालक का तीन सौ रुपये और मोबाइल लेकर फरार हो गए। जबकि बुधवार की शाम को उसका आटो गंभीरपुर बाजार के पास लावारिश हाल में पड़ा हुआ मिला। पुलिस आटो चालक के स्वास्थ्य होने का इंतजार कर रही है। प्रभारी निरीक्षक गंभीरपुर अरविंद कुमार पांडेय के मुताबिक बुधवार की शाम को गंभीरपुर बाजार के पास एक आटोरिक्शा लावारिश हाल में मिला। अभी आटो के विषय में पूछताछ शुरू किया जाता कि उससे पहले ही पीएचसी मोहम्मदपुर के डाक्टर ने फोनकर बताया कि एक युवक जहरखुरानी का शिकार हुआ है। उसकी हालत गंभीर है। जिला अस्पताल के लिए रेफर कर किया जा रहा। जांच पड़ताल के दौरान पता चला कि बेहोश युवक मुसाफिर (33) पुत्र काशीराम है। वह कंधरापुर थाने के हरिहरपुर गांव का निवासी है। प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक रानी की सराय थाना क्षेत्र के बार्डर पर मुसाफिर पड़ा हुआ था। किसी राहुल नामक युवक ने इसकी सूचना रानी की सराय के डायल 100 पुलिस को दी। पुलिस मौके पर नहीं पहुंची तो 108 नंबर डायल कर एबुलेंस बुलाकर मुसाफिर को अस्पताल में भर्ती कराया गया। जिला अस्पताल में भर्ती मुसाफिर के घर वालों से बातचीत के दौरान पता चला कि तीन लोग उसका आटोरिक्शा बुक कराए थे। वे लोग उसे पेप्सी में नशीला पदार्थ मिलाकर पिलाकर उसका तीन सौ रुपये और मोबाइल ले गए हैं। जबकि आटो बरामद कर लिया गया है। मुसाफिर के ठीक तरह से स्वस्थ्य होने पर ही घटना के सही कारण की जानकारी हो सकेगी। एसपी सिटी कमलेश बहादुर ने बताया कि मुसाफिर अभी पूरी तरह से स्वस्थ्य नहीं है। अब तक मिली जानकारी के मुताबिक सच का पता लगाया जा रहा। मुसाफिर का आटोरिक्शा लावारिश हाल में खड़ा था। जो पुलिस के कब्जे में है। जांच जारी है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/E-AT6gAA

📲 Get Azamgarh News on Whatsapp 💬