[barmer] - सुबह से रात तक नो-एन्ट्री, कैसे परिवहन कार्यालय तक पहुंचे भारी वाहन!

  |   Barmernews

बालोतरा. बालोतरा का जिला परिवहन अधिकारी कार्यालय नए भवन में शिफ्ट हो तो सैकड़ों भारी वाहनों के मालिकों व चालकों के लिए सुलभ होगा, क्योंकि वर्तमान में कार्यालय का संचालन शहर के बीचोंबीच हो रहा है। शहर के भीतर सुबह 8 से रात 8 बजे तक भारी वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित है। ऐसी स्थिति में वाहन मालिक चाहते हुए भी वाहनों को निरीक्षण करवाने के लिए परिवहन कार्यालय तक नहीं ला पाते है या फिर लाते है तो यातायात पुलिस की कार्रवाई के बीच से गुजरना पड़ता है। दरअसल, नए वाहनों के पंजीयन, फिटनेस, बॉडी अल्ट्रेशन जैसे काम करवाने के लिए वाहन को परिवहन कार्यालय में लाना आवश्यक होता है। यहां पर परिवहन निरीक्षक या उपनिरीक्षक वाहन का भौतिक निरीक्षण करता है। इसके बाद वाहन के सही स्थिति में होने पर पंजीयन, फिटनेस होता है। बालोतरा परिवहन कार्यालय में हर दिन करीब 80 से 90 और हर माह करीब 2 हजार भारी वाहन फिटनेस, पंजीयन काम करवाने के लिए आते हैं। यहां पहुंचने के लिए यातायात नियमों को तोडऩा इनकी मजबूरी बन गया है। कई बार तो नो-एन्ट्री में आने पर परिवहन विभाग की टीम ही इन्हें कार्रवाई के लपेटे में लपेट लेती है।...

फोटो - http://v.duta.us/NW11pAAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/TMMw9QAA

📲 Get Barmer News on Whatsapp 💬