[jalaun] - युवक की ईमानदारी से किसान हो गया खुश

  |   Jalaunnews

बंगरा के मिझौना गांव निवासी संजय ने बताया कि वह उरई स्थित नरेंद्र देव डिग्री कालेज में डीएलएड का छात्र है। दो दिन पूर्व जब वह उरई से बंगरा जाने के लिए राठ से औरैया जा रही रोडवेज बस में बैठा तो जालौन से पहले ही उसे अपनी बगल वाली सीट पर एक कपड़े का थैला दिखा। तब तक बस जालौन आकर रुक गई और वह भी थैले को हाथों में लेकर उतर आया और फिर सीधे अपने घर बंगरा पहुंच गया। घर पहुंचने के बाद जब उसने बैग खोलकर देखा तो उसकी आंखें फटी रह गई।

थैले में 65000 रुपये थे। एक पल के लिए तो रुपये देख उसके पसीने ही छूट गए। संजय ने बताया, थैले में उसे पाकेट डायरी मिली, जिसमें मामा के नाम के साथ उसका मोबाइल नंबर भी था। उस नंबर पर बात की तो सामने वाले ने बताया कि उसका तो कुछ नहीं खोया है लेकिन औरैया के अजीतमल निवासी उसके रिश्तेदार किसान रामदास प्रजापति का नोटों से भरा थैला जरूर गिर गया है। संजय के मुताबिक इसके बाद उसने रामदास का नंबर लेकर उन्हें फोन पर थैला मिलने की सूचना दी तो अगले ही दिन रामदास भी उरई के कोंच बस स्टैंड पहुंच गए। फौरी तौर पर नोटों के बारे में जानकारी करने के बाद संजय ने रामदास के हाथों में रुपयों से भरा थैला थमा दिया।...

फोटो - http://v.duta.us/7nuTCQAA

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/i2qXwAAA

📲 Get Jalaun News on Whatsapp 💬