[kotdwar] - पालिका प्रशासन के खिलाफ सफाई कर्मियों ने खोला मोर्चा

  |   Kotdwarnews

पौड़ी। नगर पालिका प्रशासन के खिलाफ सफाई कर्मचारियों ने मोर्चा खोल दिया है। कर्मियों ने 24 घंटे के भीतर वेतन जारी नहीं किए जाने पर हड़ताल की चेतावनी दी थी। पालिका प्रशासन की ओर से मामले में ठोस पहल सामने नहीं आने पर उन्होंने हड़ताल शुरू कर दी है। वहीं पालिका के अधिकारियों का कहना है कि सफाई कर्मियों का वेतन जल्द ही जारी कर दिया जाएगा।

बृहस्पतिवार को उत्तरांचल स्वच्छकार कर्मचारी संघ के अध्यक्ष प्रवीन घागट के नेतृत्व में सफाई कर्मियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू कर दी है। इस मौके पर संघ के अध्यक्ष ने कहा कि पालिका प्रशासन ने सफाई कर्मियों के नवंबर माह का वेतन नहीं दिया है। जिससे परिवार के भरण-पोषण में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि पालिका प्रशासन को 24 घंटे के भीतर वेतन जारी किए जाने की चेतावनी दी थी। चेतावनी की समयसीमा समाप्त होने के बाद भी वेतन जारी नहीं किया गया। उपाध्यक्ष धीरज कुमार व सचिव राजू रिडियान ने कहा कि पालिका प्रशासन सफाई कर्मियों के स्वास्थ्य की जांच नहीं करता है। वर्दी भी नहीं दी जाती है। उन्होंने कहा कि वाल्मीकि बस्ती में बने सुलभ शौचालय में छह माह बाद भी पानी का कनेक्शन नहीं दिया गया है। उन्होंने कहा कि जब तक वेतन जारी नहीं होगा, तब तक हड़ताल जारी रहेगी। ईओ विनोद लाल शाह ने कहा कि जिलाधिकारी के काउंटर साइन से जल्द ही सफाई कर्मियों का वेतन जारी कर लिया जाएगा। गौरतलब है कि मुख्य कोषागार पौड़ी ने विगत दिनों पालिकाध्यक्ष के हस्ताक्षरित 26 लाख के बिलों को वापस लौटा दिया था। कोषागार ने अध्यक्ष के वित्तीय अधिकार सीज होने का हवाला देते हुए यह बिल लौटाए थे। जिसके चलते पालिका के 45 कर्मचारियों के नवंबर 2018 का वेतन रुक गया है। साथ ही कर्मचारियों के पेंशन, पीएफ व बीमा की धनराशि भी खातों में जमा नही हो पाई है। इस अवसर पर बालेश देेेवी, सुरेश चंद्र, मुकेश, गीता, राजेंद्र, गणेश, छोटन, जगपाल, कुलदीप, सुरेंद्र, संजय, मुकेश, सुनील, प्रकाश आदि मौजूद थे।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/JuuGDQAA

📲 Get Kotdwar News on Whatsapp 💬