[pratapgarh] - मोटी कमाई के लिए बेच रहे सई की बालू

  |   Pratapgarhnews

मोटी कमाई के लिए बेच रहे सई की बालू

किशुनदासपुर, कादीपुर, पूरे ईश्वरनाथ, दहिलामऊ से लेकर पटखौली तक चल रही खुदाई

प्रतापगढ़। मोटी कमाई के लिए सई की बालू खोदकर बेची जा रही है। शहर के करीब के गांवों में सई नदी से अवैध खनन का काम जोरशोर से चल रहा है। रात के अंधेरे व दिन के उजाले में अवैध खनन का कार्य होता है। सबकुछ देखने के बाद भी जिला प्रशासन कुंभकर्णी नींद में सो रहा है।

सई नदी में पानी कम होते ही बालू का अवैध खनन करने वाले का धंधा जोरशोर से प्रारंभ हो जाता है। शहर के आसपास के गांवों में जंगलों से होकर गुजरे रास्ते से अवैध तरीके से बालू का खनन होता रहता है। कभी कभार सख्ती होने पर अवैध खनन करने वाले लोग रात के अंधेरे में अपना काम करने लगते हैं। मुफ्त में मिली बालू को भवन निर्माण में प्रयोग किया जाता है। इसके अलावा इंटरलाकिंग में प्रयोग होता है। मोरंग निकासी बंद होने के दौरान सई नदी की बालू मोरंग में मिलावट कर बेची जाती है। दिन के उजाले से लेकर रात के अंधेरे में यह काम चलता रहता है। नगर कोतवाली के कादीपुर, किशुनदासपुर, पटखौली, पूरे ईश्वरनाथ व दहिलामऊ इलाके से गुजरी सई नदी से बालू का खनन खुलेआम हो रहा है। पुल से गुजरते समय अफसरों की निगाह भी पड़ती है लेकिन वे कार्रवाई तो दूर, उस ओर देखना भी पसंद नहीं करते। इलाकाई पुलिस की सांठगांठ से सई नदी की बालू के साथ ही मिट्टी का अवैध खनन भी शहर के करीब वाले गांवों में संचालित है। बालू डंप कर उसे ट्रकों से बाहर भेजा जाता है। इस बाबत पर जिलाधिकारी मनोज का कहना है कि यदि सई नदी से बालू खोदी जा रही है तो वह दिखवाते हैं। ऐसे लोगों पर सख्त कार्रवाई होगी। मिट्टी का अवैध खनन करने वालों पर कठोर कदम उठाया जाएगा।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/rmSwMAAA

📲 Get Pratapgarh News on Whatsapp 💬