[rampur] - अंडरग्राउंड बिजली लाइन प्रोजेक्ट विभाग के लिए बना मुसीबत

  |   Rampurnews

रामपुर। अंडरग्राउंड बिजली लाइन का काम विभागीय अफसरों के लिए मुसीबत बन गया है। नगर पालिका से एनओसी (अनापत्ति प्रमाण पत्र) न लेने की वजह से काम नहीं हो पा रहा है। ऐसे में कई गलियों में अंडरग्राउंड लाइन चालू नहीं सकी है। बिजली अफसरों को लोगों के विरोध का सामना करना पड़ रहा है।

यह काम जैक्सन कंपनी की ओर से कराया जा रहा है। 145 करोड़ रुपये के इस प्रोजेक्ट में करीब 322 किलोमीटर एलटी और 49.5 किमी हाइटेंशन लाइन भूमिगत की जानी थी, लेकिन इस बीच सूबे में सत्ता परिवर्तन हो गया, जिसके बाद योगी सरकार ने प्रोजेक्ट को सीमित कर दिया। अब जैक्सन कंपनी को सिर्फ 96 करोड़ रुपये ही खर्च करने हैं, जिसमें 330 किलोमीटर एलटी और 49.5 किलोमीटर हाइटेंशन लाइन को भूमिगत किया जाएगा। अब तक 225 किलोमीटर एलटी लाइन और 49.5 किलोमीटर हाईटेंशन लाइन को भूमिगत करने का काम किया जा चुका है। इसके लिए कंपनी की ओर से बड़े पैमाने पर सड़कों की खुदाई की गई थी, जो अब भी जारी है। यहां तक कि मुहल्ला कटरा समेत तमाम इलाके ऐसे हैं जहां लाइन तो अंडरग्राउंड हो गई, लेकिन उसे अभी चालू नहीं किया जा सका है। अफसरों ने कोशिश की, लेकिन क्षेत्र के तमाम लोग एकत्र हो गए, इसके बाद सभासद ने कंपनी से अनापत्ति प्रमाण पत्र मांग लिया, जो कंपनी के पास नहीं है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Zi9MmwAA

📲 Get Rampur News on Whatsapp 💬