[indore] - चालान से बचने के लिए बाइक का नंबर बदला

  |   Indorenews

इंदौर. बाइक पर नंबर बदलकर चला रहे युवक को ट्रैफिक पुलिस ने पीछा कर पकड़ा। इ चालान से बचने के लिए दो साल से नंबर बदलकर वह गाड़ी चला रहा था। पहले वह नंबर बदलने से इनकार करता रहा। पुलिस उसके खिलाफ केस दर्ज कर रही है।

एएसपी प्रशांत चौबे ने बताया कि ट्रैफिक पुलिस ने बुधवार को आशीष चावरे निवासी अशोक नगर को पकड़ा। उसने अपनी बाइक का नंबर बदल लिया था। नियम तोडऩे के चलते ६ इ चालान बन चुके थे। जब आशीष को पकड़ा तो पहले वह गाड़ी का नंबर सही बताने लगा। जब उससे दस्तावेज मांगे तो वह नहीं बता सका। उसके इंजन व चेचिस नंबर से गाड़ी का सही नंबर पता चला। चौबे ने बताया कि दरअसल में जो नंबर उसने बाइक पर लगा रखा था वह रामदास शर्मा निवासी नंदबाग के नाम पर था। रामदास ने अपनी बाइक छोटेलाल विश्वकर्मा को बेच दी थी। उसने नाम नहीं बदलवाया तो चालान बनने पर वह रामदास के घर जाने लगे। इसी के बाद उन्होंने शिकायत की। ट्रैफिक पुलिस ने कैमरे से बाइक पर निगरानी रखी। बुधवार को गाड़ी की लोकेशन महेश गार्ड लाइन आई। तब एसआई सुनील पाटीदार, सिपाही सबरजीत सिंह, आशीष मकवाना, दीपक द्विवेदी ने पीछा कर डीआरपी लाइन चौराहे पर बाइक को पकड़ा। उसके खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया जा रहा है। उसे एमजी रोड थाने पर भेजा गया। आरएलवीडी चालान से बचने के लिए गाड़ी के नंबर की सीरिज उसने बदल ली थी।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ihvb7wAA

📲 Get Indore News on Whatsapp 💬