[ratlam] - पश्चिम बंगाल से रतलाम आई लड़कियां, परिवार ने लिया गोद

  |   Ratlamnews

रतलाम। (जावरा) शहर के कुंदन वेल फेयर सोसायटी से इस माह करीब पांच बालिकाऐं अपने घर की और पुर्नवासित हुई। कुटीर में चार वर्षों से निवासरत बालिका तीर्था सरकारी एजेंसी केयर के सहयोग से नीमच शिशु ग्रह व रतलाम महिला सशक्तिकरण के प्रयास से पूना के एक संभ्रात परिवार द्वारा गोद लिया गया। इन ख़ुशियों में एक ख़ुशी ओर तब जुड़ गई जब 24 अक्टूबर १७ को चाइल्ड लाइन रतलाम के माध्यम से संस्था कुंदर वेलफेयर में प्रवेशीत बालिका के परिजनों को संस्था व चाइल्ड लाइन के अथक प्रयास से ढूंढ निकाला।

पश्चिम बंगाल के जिला मालदा से आंक्टूबर 2017 में पलायन कर मध्यप्रदेश के रतलाम तक पहुंचने वाली बालिका अपने परिजनों से नाराज होकर घर से निकल गई थी। बालिका ऐसी की न घर जाने को ना ही घरवालो के बारे में बताने को तैयार, पर संस्था में मिले प्यार ओर परामर्श से बालिका ने घर का पता तो बता दिया पर घर जाने को राजी नहीं हुई। कुछ समय बीतने के बाद बालिका ने संस्था को ही अपना घर समझ के हिंदी भाषा सिखने के साथ ही सिलाई मेहंदी ओर पार्लर का कोर्स करने लगी दिव्यांग बालिका संस्था संस्थापक रचना मां के बहुत करीब रही फिर डॉक्टर भारतीय द्वारा धीरे-धीरे बालिका को विश्वास ओर प्यार में लेकर उसके परिजनों से लगातार बात करवाई गई। परिजनों का ग़ुस्सा भी शांत हुआ।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/ZYCtdAAA

📲 Get Ratlam News on Whatsapp 💬