[umaria] - हल्दी व अदरक की फसल से किसानों की बदलेगी तकदीर

  |   Umarianews

उमरिया. शहडोल संभाग के कमिश्नर जे के जैन ने संभाग के शहडोल, उमरिया, अनूपपुर जिले में किसानो की माली हालत में अपेक्षित सुधार लाने तथा कृषि को लाभ का धंधा बनाने की सरकार की मंशा को मूर्त रूप देने के लिए उद्यान विभाग के अधिकारियों को सब्जी एवं मसाला उत्पादन का रकबा बढाने पर जोर दिया है। सहायक संचालक उद्यान आर बी पटेल ने जिले मे हल्दी एवं अदरक उत्पादन के लिए किसानो को प्रेरित किया है। जिसमें 131 कृषको ने 125.820 हेक्टेयर में हल्दी एवं अदरक लगाने का आनलाइन पंजीयन किया है । बीज पर कृषको को प्रमाणित बीज बोने पर 50 प्रतिशत अनुदान विभाग द्वारा दिया जाएगा। आरबी पटेल ने बताया कि प्रति हेक्टेयर एक लाख रूपये की लागत अनुमानित है। यह फसल बगीचे, छाया में या अन्य फसलों के बीच भी ली जा सकती है। हल्दी एवं अदरक की फसल प्रति हेक्टेयर 350-400 क्विटल तक उत्पादन लिया जा सकता है और बाजार में 4 हजार रुपये क्विटल तक बेची जा सकती है। इस तरह प्रति हेक्टेयर 10 से 12 लाख रूपये तक मुनाफा कमाया जा सकता है। एक हेक्टेयर में 2.25 लाख रूपये तक व्यय होना अनुमानित है। बाजार की व्यवस्था भी शासन द्वारा सुलभ कराई जाएगी। सहायक संचालक उद्यान ने बताया कि जिले में 69 सामान्य कृषको ने 54.550 हे0 , एस टी के 16 कृषको ने 14.450हे0 तथा एससी के 38 कृषको ने 38.810 हे0 क्षेत्र में हल्दी लगाने का पंजीयन आनलाइन कराया है। इसी तरह अदरक लगाने के लिए 10 सामान्य कृषको ने 8.10 हे0 , एसटी के 3 कृषको ने 2.50 हे0 तथा एससी के 5 कृषको ने 5.750 हे0 क्षेत्र में अदरक लगाने का पंजीयन कराया है। किसान कही से भी प्रमाणित बीज लगा सकते है जिस पर 50 प्रतिशत अनुदान शासन द्वारा दिया जाएगा। उन्होने जिले के किसानो से अपील की है कि वे क्राप फसल हेतु अधिकाधिक पंजीयन कराकर शासन की योजनाओ का लाभ लेने हेतु आगें आए ताकि उनकी माली हालत मे अपेक्षित सुधार आ सके।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/gpmJNQAA

📲 Get Umaria News on Whatsapp 💬