[uttarakhand] - उत्तराखंड के किसी भी मंदिर में किसी भी जाति के व्यक्ति का प्रवेश रोका नहीं जा सकताः हाईकोर्ट

  |   Uttarakhandnews

नैनीताल हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि उच्च जाति के पुजारी किसी भी पूजा स्थल पर किसी भी निचली जाति के व्यक्ति के लिए पूजा करने से इनकार नहीं कर सकता है. अदालत ने कहा कि संविधान की धारा 14, 15(2), 17, 19, 21, 25, 29(2), 38, 46 और 51-ए के अनुसार राज्य के किसी भी मंदिर में किसी भी जाति का व्यक्ति प्रवेश कर सकता है. अदालत ने यह भी कहा है कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए उचित प्रशिक्षण प्राप्त और योग्य व्यक्ति को राज्य में मंदिर का पुजारी बनाया जा सकता है, चाहे वह किसी भी जाति का हो. ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Xgw_vgAA

📲 Get uttarakhandnews on Whatsapp 💬