👉 तो मरने ⚰️ के बाद यह होगा एफबी अकाउंट का, कोर्ट 🏛️ ने सुनाया अहम फैसला 👨‍⚖️

  |   Hindiworldnews

मृत व्यक्ति के फेसबुक अकाउंट को लेकर जर्मनी की शीर्ष अदालत ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया है । अदालत ने फेसबुक को आदेश दिया कि वह मृत व्यक्ति की मां को लॉग इन कर पाने की इजाजत उसकी मां को दे । इसके लिए मृतक की मां को एक लंबी लड़ाई लड़नी पड़ी ।

जानकारी के अनुसार जर्मीन के एक दंपति की बेटी की मौत के बाद उन्होंने फेसबुक से उसके अकाउंट में लॉगिन करने की अनुमति मांगी । लेकिन कंपनी ने प्राइवेसी पॉलिसी का हवाला देकर यह करने से मना कर दिया । माता पिता ने बताया कि 2012 में उनकी बेटी की संदेहास्पद परिस्थितियों में मौत हो गई थी ।

वे फेसबुक अकाउंट के जरिए उसकी मौत से जुड़े कुछ सवालों के जवाब ढूंढना चाह रहे थे । लेकिन फेसबुक से इजाजत नहीं मिलने के बाद उन्होंने कोर्ट में याचिका दायर की । जिसके बाद बर्लिन की उच्‍च अदालत ने इस मामले में माता-पिता और फेसबुक को कोर्ट के बाहर समझौता करने का मौका भी दिया, लेकिन ऐसा हो नहीं सका।

बता दें कि लड़की मौत 5 साल पहले बर्लिन के एक सब-वे स्‍टेशन पर ट्रेन के सामने आ जाने से हुई थी। लेकिन अब तक यह साफ नहीं हो पाया है कि ये कोई दुर्घटना थी या खुदकशी। कोर्ट के सामने अब ये सवाल था कि डिजिटल खातों को भी अनुरूप संपत्ति(एनालॉग संपत्ति) के दायरे में रखा जाए या नहीं। हालांकि बर्लिन की एक स्‍थानीय अदालत ने साल 2015 में माता-पिता के पक्ष में फैसला सुनाया था, जिसे फेसबुक ने उच्‍च अदालत में चुनौती दी थी।

फोटो के लिए देखें- http://v.duta.us/YJ31ugAA

📲 Get विश्व समाचार on Whatsapp 💬