[agar-malwa] - स्कूल हुआ जलमग्न, छात्र और छात्राएं यहां पर कैसे करें पढ़ाई

  |   Agar-Malwanews

आगर-मालवा. जिला मुख्यालय से महज 5 किमी दूर स्थित ग्राम राजाखेड़ी में बारिश के दिनों में दिया तले अंधेरा जैसी स्थिति निर्मित होती हुई दिखाई देती है। जवाबदारों की अनदेखी के चलते वर्षाकाल के दौरान यहां के प्राथमिक विद्यालय में अधिकांश समय ताला लगा रहता है। बुरी तरह जर्जर हो चुका यह स्कूल भवन बारिश में चारों ओर से पानी से घिर गया है। ऐसी दशा में बच्चे स्कूल जाने से भी डरते हैं। सम्पन्न ग्रामीणों ने तो अपने बच्चों को निजी स्कूलो में भर्ती करा दिया लेकिन आर्थिक स्थिति से कमजोर ग्रामीणों के बच्चे वर्षाकाल की अवधी में पढऩे से वंचित रह जाते हैं। बड़ोद विकासखंड के ग्राम पंचायत कुलमड़ी के ग्राम राजाखेड़ी जुनार मे एक मात्र प्रावि स्कूल ही है, लेकिन इस स्कूल की स्थिति काफी दयनीय है। यह स्कूल जर्जर होकर गिरने की स्थिति में तो है ही सही साथ ही हर साल बारिश के दौरान यह स्कूल बंद रहता है। स्कूल हर भवन मे पानी भरा रहता है। यहां बैठने की जगह ही नहीं रहती है। शुक्रवार को भी इस स्कूल मे कुछ ऐसी ही स्थिति निर्मित हो गई थी। दो दिनों से हो रही बारिश के कारण यहां पर स्कूल भवन के अंदर पानी घुस गया व अंदर से पूरा स्कूल तालाब बन गया। बच्चे रोजाना की तरह स्कूल तो आए लेकिन अंदर पानी होने के कारण पढ़ नहीं पाए। ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/tmRe7gAA

📲 Get Agar-malwa News on Whatsapp 💬