[bihar] - अरियरी सीएचसी का चापाकल महीनों से है खराब

  |   Biharnews

अरियरी| प्रखंड मुख्यालय स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का एकलौता चापाकल महीनों से खराब है। जिसके कारण पदस्थापित स्वास्थ्य कर्मियों व सुरक्षाकर्मियों को पेयजल के लिए परेशान होना पड़ रहा है। साथ ही अस्पताल पहुँचने वाले मरीजों को ही पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है। अरियरी प्रखंड में पिछले 10 दिनों से चल रहे बिजली संकट को लेकर कई क्षेत्रों में पेयजल आपूर्ति की व्यवस्था पर भी संकट खड़ा कर दिया है। जिसके कारण इसका बुरा असर सीएचसी पर भी पड़ा है। सीएचसी में पदस्थापित कर्मियों को पेयजल के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। विकट स्थिति में लोगों को बाजार से पानी खरीद कर भी प्यास बुझाना पड़ रहा है। सीएचसी में प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ.महेंद्र प्रसाद ने बताया कि डेढ़ वर्ष पूर्व भवन निर्माण के समय ही एक चापाकल गाड़ा गया था, जो कुछ महीनो ही ख़राब हो गया। पेयजल की समस्या को लेकर इसकी सूचना कई बार पीएचईडी विभाग के अधिकारीयों को दिया गया है। वाबजूद आज तक इस दिशा में कोई पहल नहीं किया गया है। जिसके कारण स्वास्थय कर्मियों के साथ-साथ मरीजों को भी परेशानी का सामना करना पड़ता है। स्वास्थ्य कर्मियों ने बताया कि सीएचसी के आसपास क्षेत्रों के अधिकांश चापाकल ख़राब है। चापाकल ख़राब रहने के कारण या तो पानी खरीद कर पीना पड़ता है या फिर दूर-दूर गांव से लाकर अपनी प्यास बुझाना पड़ता है।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/_HSXkwAA

📲 Get Bihar News on Whatsapp 💬