[delhi-ncr] - EXCLUSIVE: कमीशन के खेल में डॉक्टर नहीं लिख रहे जेनेरिक दवा, 40 प्रतिशत सस्ता हो सकता है इलाज

  |   Delhi-Ncrnews

ब्रांडेड दवाओं के नाम पर इलाज के लिए मरीजों को चार गुना ज्यादा जेब ढीली करनी पड़ रही है। 16 से 20 रुपये में मिलने वाली जेनेरिक दवा की जगह ब्रांडेड कंपनी की दवा 100 से 120 रुपये में मिल रही है।

दरअसल, कई डॉक्टर कमीशन के खेल में जेनेरिक दवा नहीं लिख रहे हैं। अगर कोई मरीज जेनेरिक दवा लेने के बार में पूछता भी है तो डॉक्टर सीधे मना कर देते हैं।

जेनेरिक दवा और ब्रांडेड दवाइयों में एक ही तरह का सॉल्ट इस्तेमाल किया जाता है, लेकिन ब्रांडेड दवा की मार्केटिंग पर कंपनियां करोड़ों रुपये खर्च करती हैं, इसलिए कंपनियां इनको महंगा बेचती हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/G9UJqQAA

📲 Get Delhi NCR News on Whatsapp 💬