[etah] - तीर्थ स्थल घोषित कराने को किया पैदल मार्च

  |   Etahnews

सोरों।

धार्मिक नगरी सूकर क्षेत्र को उसकी पौराणिकता के अनुकूल तीर्थ स्थल का दर्जा देने की सोरों के बाशिंदे मांग कर रहे हैं। अखंड आर्यावर्त संघ द्वारा गुरुवार को बराह स्मारक से कलेक्ट्रेट तक पैदल मार्च निकाला गया। मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया।

आंदोलन संयोजक भूपेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश की योगी सरकार द्वारा ब्रज के तीर्थ बरसाना, गोकुल, नंदगांव, राधाकुंड, बलदेव आदि को तीर्थ स्थल का दर्जा दिया गया है, यह स्वागत योग्य कदम है। परंतु ऐतिहासिक, पौराणिक तीर्थनगरी सोरों सूकर क्षेत्र को तीर्थ स्थल का दर्जा देने में हीलाहवाली क्यों की जा रही है। जबकि यह नगरी भगवान विष्णु के तृतीय अवतार भगवान वराह की मोक्षस्थली है। संत तुलसीदास की जन्मभूमि है। प्रतिदिन हजारों श्रद्धालु अपने दिवंगत प्रियजनों की अस्थियां यहां हरि की पैड़ी में प्रवाहित करते हैं। जो तीन दिन में गंगाजल में विलय हो जाती हैं। कलक्ट्रेट पहुंचकर मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन एडीएम को सौंपा। लोगों ने प्रदेश सरकार से शीघ्र तीर्थस्थल का दर्जा देने की मांग की। पैदल मार्च में लोकेश पचैरी, अशोक पांडेय, सीताराम तिवारी, सचिन उपाध्याय, मनीष पंडा, प्रतीक शर्मा, सीटू तिवारी, प्रशांत वशिष्ठ, कल्लू तीती, विकास यादव, प्रमोद उपाध्याय, दीपक भारद्वाज, विवेक दीक्षित, कपिल पंडित, रामू महेरे, रामदास लोधी, केशव मास्टर, धीरज खलीफा, राहुल तिवारी, गोपाल गुप्ता, गोविंद तिवारी, श्याम दीक्षित आदि लोग शामिल रहे।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/DOvn8gAA

📲 Get Etah News on Whatsapp 💬