[gwalior] - 16 साल पहले बनाकर भूले ड्रग टेस्टिंग लैब, अब आई याद, मशीनों की जांच के लिए बुलाए जाएंगे इंजीनियर

  |   Gwaliornews

ग्वालियर। 16 साल पहले आयुर्वेद कॉलेज में बनी ड्रग टेस्टिंग लैब को ताले में बंद कर भूल गए। अब याद आई है तो लैब को शुरू करने की तैयारी चल रही है। इसे शुरू करने के लिए बीते रोज आयुष विभाग की असिस्टेंट डायरेक्टर डॉ.सोमना शुक्ला ने लैब का निरीक्षण कर रिपोर्ट तैयार की। इसमें मशीनों को दोबारा इंस्ट्रॉल करने कंपनी के इंजीनियरों को बुलाने पर जोर दिया गया।

अब भोपाल स्तर से अधिकारियों द्वारा कंपनी को पत्र लिखा जाएगा। इससे पहले विज्ञान एवं प्रोद्योगिकी विभाग के अधिकारी भी लैब का निरीक्षण करने आ सकते हैं। कॉलेज में लैब 2002 में बनी थी, 2006 में करोड़ों रुपए की मशीनें आईं, एक बार इंस्ट्रॉल के बाद इनका उपयोग तक नहीं किया जा सका। इसकी वजह टैक्नीशियन न होना रही।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/Ykv-YQAA

📲 Get Gwalior News on Whatsapp 💬