[jammu-and-kashmir] - महबूबा मुफ्ती को पार्टी टूटने का डर, बीजेपी को चेताया, 'तब एक सलाउद्दीन और यासीन पैदा हुए थे'

  |   Jammu-And-Kashmirnews

श्रीनगर

जम्मू-कश्मीर में बीजेपी के सहयोग से चल रही सरकार गिरने के बाद अब महबूबा मुफ्ती के सामने अपनी पार्टी पीडीपी को बचाने का संकट है। पीडीपी में बगावत के गंभीर संकेत मिल रहे हैं और महबूबा ने बगावती नेताओं पर कार्रवाई भी शुरू कर दी है। जम्मू-कश्मीर की पूर्व सीएम ने बीजेपी और केंद्र सरकार को भी चेताया है कि अगर पीडीपी को तोड़ने की कोशिश हुई तो इसके खतरनाक परिणाम होंगे। ऐसा कहते हुए महबूबा ने 1990 के दशक के कश्मीर और सलाउद्दीन जैसे आतंकियों का भी जिक्र किया।

महबूबा ने बीजेपी और केंद्र सरकार को 1987 के घटनाक्रम की याद दिलाते हुए चेतावनी दी है। महबूबा ने कहा कि अगर दिल्ली 1987 की तरह लोगों के वोटिंग राइट्स को खारिज करने, कश्मीर के लोगों को बांटने की कोशिश करेगी तो खतरनाक हालात पैदा होंगे। महबूबा ने कहा कि तब जिस तरह एक सलाउद्दीन और यासीन मलिक पैदा हुए थे, इसबार हालात और भी खराब होंगे। जम्मू कश्मीर बीजेपी अध्यक्ष रविंद्र रैना ने कहा है कि महबूबा का बयान काफी आपत्तिजनक है। उन्होंने कहा कि बीजेपी किसी तोड़फोड़ की प्रक्रिया में नहीं लगी है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/b_1rBQAA

📲 Get Jammu and Kashmir News on Whatsapp 💬