[jharkhand] - बच्चों को टीका लगाने से नहीं होगा साइड इफेक्ट

  |   Jharkhandnews

अल्पसंख्यक विद्यालयों में हुई अभिभावक गोष्ठी, डॉ. खाखा ने कहा

भास्कर न्यूज | सिमडेगा

मिजिल्स रूबेला टीकाकरण अभियान को लेकर कुरडेग प्रखंड के विभिन्न विद्यालयों में गुरुवार को अभिभावक गोष्ठी का आयोजन किया गया। निर्मला हाईस्कूल खालीजोर, आरसी बालिका मवि कुरडेग, आरसी मवि कुरडेग, हॉली फैमिली स्कूल कुरडेग में आयोजित अभिभावक गोष्ठी में 26 जुलाई से चलने वाले टीकाकरण अभियान की जानकारी दी गई। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. आनंद खाखा ने कहा कि यह अभियान राष्ट्रव्यापी है। इसके अंतर्गत खसरा और रूबेला के प्रति सुरक्षा प्रदान करने के लिए एमआर टीका विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों को लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि नौ माह से 15 वर्ष आयुवर्ग के बच्चों को टीका लगाया जाएगा। बैठक में मौजूद कुछ अभिभावकों ने कहा कि एमआर टीका लगाने से कई साइड इफेक्ट की बातें कही जा रही है। इस स्थिति में वे टीका नहीं लगवा सकते हैं। इसपर डॉ. खाखा ने कहा कि यह टीकाकरण खसरा रूबेला से बचाव के लिए है। इससे किसी भी तरह का साइड इफेक्ट नहीं है। सरकार ने जांच परख के बाद ही यह टीका लागू की है और ऐसा कोई मामला नहीं है। अभिभावकों को निश्चित करते हुए डा. खाखा ने कहा कि इससे बच्चे को कोई नुकसान नहीं होगा और न ही भविष्य में वयस्क होने के बाद किसी तरह की परेशानी होगी। इस मौके पर यूनिसेफ के अनुराग दीक्षित, बीपीएम ऋषिकेश कश्यप आदि ने अभिभावकों को अभियान के बारे जानकारी दी।

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/trFzuAAA

📲 Get Jharkhand News on Whatsapp 💬