[jodhpur] - JNVU शिक्षक भर्ती घोटाले के इन 34 शिक्षकों को बर्खास्त कर विवि ने ही दे दी अण्डरटेकिंग, नौकरी के साथ उठा रहे हैं ये लाभ

  |   Jodhpurnews

गजेंद्रसिंह दहिया/जोधपुर. जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय शिक्षक भर्ती 2012-13 घोटाले में सिण्डीकेट की ओर से बर्खास्त किए गए 34 असिस्टेंट प्रोफेसर के मामले में खुद विवि ने ही कोर्ट में इनकी अण्डरटेकिंग दे रखी है। कोर्ट ने कभी भी इन शिक्षकों की बर्खास्तगी पर स्टे नहीं दिया, बावजूद इसके सभी शिक्षक न केवल एक साल से नौकरी कर वेतन-भत्ते उठा रहे हैं, बल्कि हॉस्टल वार्डन, विभागाध्यक्ष जैसे महत्वपूर्ण पदों पर भी आसीन है। राज्य सरकार ने विवि की इस अनियमितता को पकड़ते हुए अब दोषियों के विरुद्ध वित्तीय अनियमितता का मामला दर्ज करने की चेतावनी दी है।

विवि ने 2012-13 में 154 शिक्षकों की भर्ती की थी। इसमें 111 असिस्टेंट प्रोफेसर थे। दस्तावेजों में भारी गड़बडिय़ां सामने आने के बाद विवि ने फरवरी 2017 में 34 असिस्टेंट प्रोफेसर को कारण बताओ नोटिस देकर योग्यता साबित करने के लिए कहा। इन सभी शिक्षकों ने कोर्ट में रीट लगाई, जिसे कोर्ट ने प्री मैच्योर रीट माना। कोर्ट ने कहा कि विवि का कोई भी निष्कासन आदेश जारी होने की तिथि से 40 दिन तक इन शिक्षकों पर लागू नहीं होगा।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/PP7QCgAA

📲 Get Jodhpur News on Whatsapp 💬