[mainpuri] - अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में न शिक्षकों की तैनाती और न ही हैं किताबें

  |   Mainpurinews

मैनपुरी। अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों के नाम पर छात्र-छात्राओं के साथ धोखा किया जा रहा है। शिक्षा विभाग ने स्कूलों के लिए भवन तो दे दिए, लेकिन न तो शासनादेश के तहत शिक्षक मिल रहे हैं और न ही किताबें। ऐसे में कैसे अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में शासन का सपना पूरा होगा। मॉडल स्कूलों के नाम पर छात्र-छात्राओं के साथ धोखा किया जा रहा है।

शासन द्वारा परिषदीय विद्यालयों में अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा दिलाने का निर्णय लिया गया था। इसके तहत जनपद में 55 स्कूलों का चयन किया गया है। इन स्कूलों में 55 प्रधानाध्यापक और 220 सहायक अध्यापकों की तैनाती की जानी थी, लेकिन अभी तक विभाग मात्र 67 शिक्षकों की ही व्यवस्था कर पाया है। ऐसे में कैसे संभव होगा कि अंग्रेजी माध्यम के स्कूलों में बेहतर शिक्षा प्रदान की जा सकेगी। एक तरफ जहां विभाग इन स्कूलों में शिक्षकों की तैनाती नहीं कर पा रहा है। वहीं, दूसरी तरफ प्राइवेट स्कूलों से मुकाबला करने की तैयारी में है।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/jF1n1AAA

📲 Get Mainpuri News on Whatsapp 💬