[pratapgarh] - 66 उपकेंद्रों के लिए सिर्फ छह वाहन, कैसे बदलेंगे 48 घंटें में ट्रांसफार्मर

  |   Pratapgarhnews

प्रतापगढ़। 48 घंटे में फुंके ट्रांसफार्मर को बदलकर आपूर्ति बहाल कराने व्यवस्था जिले में वाहनों की बदइंतजामी के चलते मजाक बन गई है। वाहनों के अभाव के चलते समय से ट्रांसफार्मर वर्कशाप तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। विभाग की माने तो 66 उपकेंद्राें के सापेक्ष विभग की ओर से महज 6 वाहनों की व्यवस्था है। शिकायत के 48 घंटे बाद तो दूर ट्रांसफार्मर ले जाने के लिए वाहन पखवारे भर बाद भी नहीं आ पा रहे हैं। मजबूर होकर लोग चंदा एकत्र कर वाहनों का इंतजाम कर रहे हैं।

सत्ता में आने के बाद योगी सरकार ने बिजली व्यवस्था को पटरी पर लाने की कवायद शुरू की थी। शहर में 24 घंटे व गांव में 18 घंटे विद्युत आपूर्ति का निर्देश दिया था। साथ ही फुंके ट्रांसफार्मरों को 48 घंटे में बदलने का निर्देश दिया था। बेल्हा में शासन का यह फरमान बेमानी साबित हो रहा है। जिले में ट्रांसफार्मरों को बदलने की मुकम्मल व्यवस्था नहीं है। 66 उपकेंद्रों के सापेक्ष जिले को महज छह वाहन ही मुहैया कराए जा सके हैं। 66 उपकेंद्रों पर छह वाहन अपर्याप्त हैं। गर्मी के दिनों में फुंके ट्रांसफार्मरों को ले जाने व ले आने में विभाग को फजीहत झेलनी पड़ रही है। शिकायत को पखवारा बीत जा रहा है, मगर वाहनों के दर्शन नहीं हो रहे हैं। स्थिति यह है कि कहीं पखवारे भर से तो कहीं हप्तेभर से गांवों में ट्रांसफार्मर फुंके पडे़ हैं। शिकायत के बाद भी अब तक नहीं बदले जा सके हैं।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/q5YgOAAA

📲 Get Pratapgarh News on Whatsapp 💬