[sagar] - यहां अंतिम संस्कार करने बारिश रुकने का करना पड़ता है इंतजार

  |   Sagarnews

बीना. ग्राम पंचायत नौगांव के श्मशानघाट का टीन शेड कुछ दिनों पूर्वचली आंधी में धराशायी होने के बाद अब ग्रामीणों को अंतिम संस्कार करने में परेशानी हो रही है। अंतिम संस्कार करने के लिए लोगों को बारिश रुकने का इंतजार करना पड़ता है या फिर अस्थाई शेड बनाकर अंतिम संस्कार करते हैं।

गुरुवार को गांव की हीराबाई पति कुंदनलाल रैकवार (54) का निधन हो गया, जिसका अंतिम संस्कार ग्रामीणों को श्मशान घाट के बाजू से करना पड़ा। यदि बारिश हो जाती तो अंतिम संस्कार करना भी मुश्किल हो जाता है। कईदिनों से शेड टूटा पड़ा है, लेकिन पंचायत और अधिकारियों द्वारा इसे सही नहीं कराया गया है। बारिश पूर्व यदि यह शेड सही करा दिया गया होता तो ग्रामीणों को परेशान नहीं होना पड़ता। गौरतलब है कि शेड निर्माण के समय गुणवत्ता का ध्यान न रखे जाने के कारण शेड धराशायी हो रहे हैं। पिछले वर्ष भी कई पंचायतों में ऐसी स्थिति बनी थी कि अस्थाई शेड और छाता लगाकर अंतिम संस्कार किया गया था और करमपुर में लोगों ने प्रदर्शन भी किया था। ...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/a4N5vAAA

📲 Get Sagar News on Whatsapp 💬