[shahdol] - मुख्यमंत्री पेयजल योजना का काम बंद

  |   Shahdolnews

शहडोल. नगर के लोगों को पीने का पानी उपलव्ध कराने के लिए शासन द्वारा स्वीकृत की गई २२ करोड़ ९५ लाख रुपए लागत की मुख्यमंत्री शहरी जल संवर्धन योजना अधर में अटक गई है। शासन द्वारा वर्ष २०१३ में योजना की स्वीकृति मिलने के बाद नपा द्वारा सीएलकेबीजी कंपनी झांसी उत्तरप्रदेश को निर्माण कराने का ठेका दिया गया और कंपनी पांच साल बाद भी उक्त योजना को पूरा नहीं कर पाई और अंत में लगभग २० करोड़ रुपए का भुगतान मिलने के बाद निर्माण कार्य बंद कर दिया। बताया गया है कि अभी भी लगभग १० फीसदी से अधिक निर्माण कार्य अधूरा है, जिसमें अब तक नगर में पाइप लाइन बिछाने का कार्य शुरू ही नहीं किया। सवाल यह है कि अगर कंपनी द्वारा निर्माण कार्य नहीं कराया जा रहा था तब नपा ने ठेकेदार को भारी भरकम २० करोड़ रुपए राशि का भुगतान कैसे कर दिया गया, अगर कंपनी का भुगतान रोक दिया जाता तो कंपनी बिना निर्माण कार्य कराए कभी नहीं भागती। मुख्यमंत्री पेयजल योजना शुरू से ही विवादों और अनियमितताओं को लेकर सुर्खियों में रही। बावजूद प्रशासन द्वारा इस योजना पर कोई ठोस पहल नहीं की जिसका नतीजा यह हुआ कि योजना अधर में अटक कर रह गई।...

यहां पढें पूरी खबर— - http://v.duta.us/_2K1VAAA

📲 Get Shahdol News on Whatsapp 💬